10 October 2010

१४ हजारी सचिन तेंदुलकर

झुठला कर सरे मिथक, औ अनुमान तमाम|
फोर्टीन थौजेंड हो गए, तेंदुलकर के नाम||
तेंदुलकर के नाम, राम जी उन को राखें|
किरकिट प्रेमी उन के करतब के फल चाखें|
सब के प्यारे, और दुलारे सचिन हमारे|
चर्चा फिर से उनकी होगी द्वारे द्वारे||

4 comments:

  1. Kya baat hai sir ji. Anootha vishay aur Kakaji ki yaad dila di aapne.

    ReplyDelete
  2. अजीत भाई नमस्कार| इधर सचिन ने १४००० पूरे किया और उधर कुंडलिया बन गयी, तो सोचा चलो अपने दोस्तों से साझा कर लेते हैं| आपकी टिप्पणी के लिए धन्यवाद|

    ReplyDelete
  3. बहुत खूब नवीन जी.... सचिन की तो बल्ले-बल्ले हुई ही साथ ही आपकी भी...हा..हा..

    ReplyDelete
  4. धन्यवाद सुशील भाई

    ReplyDelete